Government jobs vs private jobs vs business ,which is best.




Government jobs vs private jobs vs business ,which is best.


दोस्तों क्या आपने कभी सोचा है कि जानकारी के अभाव में हम ऐसे गलती कर बैठते हैं जिसकी शीला हम जिंदगी भर भुगतते हैं।
 आज वैसे ही एक क्रिटिकल डिसीजन को आप लोगों के सामने जिसे लोग ज्यादा समझना नहीं चाहते सिर्फ दुनिया को देखकर उसी राह में चल देते हैं।

 अब तक आप लोग सोच रहे होंगे कि वह कौन सी प्रॉब्लम है वह है करियर जब तक हम स्कूल में होते हैं तो हमें लगता है कि हमारा करियर टेंथ में अच्छा मार्कशीट लेने तक है बट ऐसा नहीं होता आगे ट्वेल्थ और अदर करने होते हैं।

 उसके बाद यहां से कितने स्टूडेंट इंजीनियरिंग मेडिकल सिंपल ग्रेजुएशन करने चले जाते हैं और इसे अपने गोल का अंतिम पॉइंट मान लेते हैं लेकिन ऐसा नहीं है।

जब हम लोगों का ग्रेजुएशन कंप्लीट हो जाता है चाहे वह किसी भी क्षेत्र से हो जैसे इंजीनियरिंग मेडिकल कमर्शियल सोशल और साइंस से

कुछ बंदे आगे की पढ़ाई जारी रखते हैं लेकिन 80% परसेंट स्टूडेंट जॉब की तलाश में लग जाते हैं और उसी समय दिमाग में एक ही कंफ्यूजन चल रहा होता है कि जॉब सरकारी करें या प्राइवेट करूं या बिजनेस करूं

तो चलिए दोस्तों आज मैं यह कंफ्यूजन दूर करने की कोशिश करूंगा इसे हम टेक्निकली साइंस के भाषा में समझेंगे जिससे आगे चलकर आपको कोई घाटा नहीं होगा ।

हमारा क्वेश्चन है सरकारी जॉब भी एस प्राइवेट जॉब भी एस बिजनेस कौन बेस्ट होगा

 सबसे पहले तो आपको अपना डिग्री देखना है उसके बाद उसके स्कोप देखना है कि किस में ज्यादा प्रॉफिट हो रहा है अगर आपके पास बीटेक की डिग्री है और आप पैसे कमाना चाहते हैं तो आपके पास 3 ऑप्शन है सरकारी प्राइवेट और बिजनेस सबसे पहले आपको बैंक बैलेंस देखना चाहिए क्योंकि आपने 4 वर्ष से पढ़ाई की है अगर आपके पास बैंक बैलेंस है तो आप डायरेक्टली बिजनेस के चुनेंगे क्योंकि यही एक प्लेटफार्म है जो हमें बुलंदियों पर ले जा सकता है।

 अगर आपके पास पैसा नहीं है तो आपके पास तो बीटेक है तो यह तो बात होगी कि आपका प्रैक्टिकल अच्छा होगा यह तो नहीं कहा जा सकता कि तेरी भी अच्छी होगी जब आपको लगता है कि आपका थ्योरी अच्छा नहीं है तो आप प्राइवेट जॉब पकड़ लीजिए ।

अगर आपका थ्योरी और प्रैक्टिकल दोनों अच्छा है तो आप इंट्रेंस एग्जाम देकर सरकारी जॉब ले सकते हैं जिसमें आपको जॉब सिक्योर मिलेगी और सैलरी भी अच्छी होगी  ।

उम्मीद करता हूं कि आपको समझ आ गया होगा अगर कुछ डाउट है तो कमेंट कीजिए मैं आपका आंसर रिप्लाई में देने का प्रयास करूंगा।

Post a comment

0 Comments